सर्जरी कर नौजवान के पेट से निकाले 9 चम्मच, 2 टूथ ब्रश और एक चाकू..!

एसएलबीएस मेडिकल कॉलेज के तीन डॉक्टर्स ने क़रीब डेढ़ घंटे सर्जरी की। डॉक्टर्स का कहना है कि मरीज मानसिक रूप से बीमार है, ऐसे रोगियों को खाने की चीजों का आभास नहीं होता।

loading...
हिमाचल के मंडी में डॉक्टर ने सर्जरी कर 35 वर्ष के युवक के पेट से9 चम्मच, 2 टूथ ब्रशऔर 2स्क्रू ड्राइवर और एक चाकू निकाला। यह ऑपरेशनएसएलबीएस मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों की एक टीम ने किया।ऑपरेशन डेढ़ घंटे तक चला। अस्पताल ने बताया कि मरीज अब पूरी तरह से ठीक है।

डॉ. रणेश चौहान ने बताया, "जब मरीज को लाया गया तब उसके पेट से आधा चाकूबाहर निकला हुआ था। मरीज की हालत बहुत खराब थी। हमने सर्जरी करने का निर्णय किया।मरीज मानसिक रोगी है।"मरीज सुंदरनगर के वनायक का रहने वाला है।

मेडिकल भाषा में इसे कहते है बेजोआर बीमारी:


डॉ. चौहान ने बताया कि मानसिक रूप से बीमार कोई भी व्यक्ति इस प्रकार की चीजें आसानी से अपने अंदर निगल लेता है। उसे इस बात का काेई एहसास ही नहीं होता कि वह क्या खा रहा है। आम आदमी इस प्रकार की चीजों को गले से अंदर नहीं निगल पाता। मरीज के इन सिस्टम के चोक हाेने पर जब यह चीजें प्रॉब्लम करती है तभी इनका पता चलता है। इस तरह के मरीज को मेडिकल भाषा में बेजोआर बीमारी के नाम से जाना है।