गरीब पिता ने अपने हाथों से बनाया बेटे के लिए स्कूल बैग, लोग पूछने लगे- कैसे बनाया?

आज का वक्त मॉर्डन है लोग भी समय के साथ बदलते नजर आ रहें है। इस मॉडर्नाइजेशन से कोई नहींं बच पाया है, फिर चाहे वो बड़ा हो या बच्चा। मगर इन दिनों कम्बोडिया के एक किसान ने मॉडर्नाइजेशन को चुनौती दी है।

loading...
डोरेमोन, नोबिता, मोटू और पतलू से लेकर तरह-तरह के प्रिंट वाले शानदार स्कूल बैग्स को लेकर देश ही क्या विदेशों का बाजार भी भरा पड़ा है। ज्यादातर ऐसा देखा जाता है जब बच्चा स्कूल जाना शुरू करता है या फिर नई कक्षा में प्रवेश करता है, तो माता-पिता उसे अच्छे से अच्छा बैग लेकर देते हैं। मगर इन दिनों सोशल मीडिया पर एक पिता ने अपने बेटे के साथ सबका दिल जीतने वाला काम किया है। मामला कम्बोडिया का है, जहां एक किसान ने अपने बेटे को हाथों से एक स्कूल बैग बनाकर दिया है।

इंटरनेट पर बच्चे और उसके बैग की तस्वीरें जोरदार तरीके से वायरल हो रही हैं। कम्बोडिया के 5 वर्षीय एनवाई केंग अपने नए स्कूल पहुंचा, तो सबकी नजरें उसके बैग पर ही टिकी रह गई। केंग की अध्यापक सोफोस सुन ने बताया कि एक साधारण सा स्कूल बैग जिसकी कीमत 30000 Riels यानि 488 रुपये है। यहां कुछ माता-पिता ऐसे है जो अपने बच्चों को इतना महंगा बैग नहीं दिला सकते थे। इस परिस्थिती में उन्हें केंग के पिता से कुछ सीखना चाहिए कि अधिक पैसे ना होने पर भी कैसे बच्चे को एक खूबसूरत सा बैग दिया जा सकता है।

रिपोर्ट की मानें तो केंग के पिता ने इस खूबसूरत स्कूल बैग को राफिया स्ट्रिंग के उपयोग से बनाया है। यह सिर्फ एक बैग नहीं है एक पिता के प्यार, उनकी क्रिएटिविटी और बच्चे की पढ़ने की लगन को लोगों तक पहुंचाना चाहती थीं इसलिए उन्होंने ये तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कीं।

ऐसा कितनी बार होता है कि जब स्कूल की छोटी-छोटी जरूरतों को पूरा न कर पाने के कारण माता-पिता अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजते हैं। इसलिए अपने बच्चों को सपोर्ट करें और यदि पानी की बोतल,स्केल बैग या फिर पैंसिल-रबर आप नहीं खरीद सकते हैं तो केंग के पिता जैसा ही कुछ विकल्प निकालें।