सगे भांजे को ही दिल दे बैठी है मौसी, शादी करने की जिद पर अड़ी, जानिए फिर क्या हुआ...

आप लोगो ने वो मशहूर कहावत तो सुनी ही होगी कि ‘प्यार अंधा होता हैं।’ ये कभी भी, किसी से भी तथा कहीं भी हो सकता हैं। जब प्यार होता हैं तो दिल उम्र, रंग, जातपात और यहां तक कि रिश्ते नाते भी नहीं देखता हैं। इसी बात की एक मिसाल उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले के शिकोहाबाद में देखने को मिली हैं। यहां एक महिला को अपने ही सगे भांजे से इस कदर प्यार हो गया कि वो सारी शर्म लिहाज और रिश्ते नाते छोड़ उस से शादी की जिद पर जा अड़ी। आलम ये था कि परिवार वालो को पंचायत से लेकर थाने तक के चक्कर लगवाने पड़ गए। आइए इस पुरे मामले को थोड़ा और विस्तार से जान लेते हैं।

loading...
दरअसल नेहा (परिवर्तित नाम) शिकोहाबाद के एक मोहल्ले में अपनी बड़ी बहन के यहां रहती हैं। उसका अधिकतर जीवन बहन के साथ ही बिता हैं। एक तरह से हम कह सकते हैं कि वो अपनी दीदी के घर ही पली बड़ी हैं। नेहा की दीदी का एक बेटा भी हैं, जो रिश्ते में नेहा का सगा भांजा लगता हैं। एक ही घर में रहते रहते और भांजे के बड़े होते होते इन दोनों को एक दुसरे से प्यार हो गया। इसमें नेहा तो अपने भांजे के प्यार में बुरी तरह से पागल ही हो गई। वो उसके बिना एक पल भी नहीं रह पा रही थी। इतना ही नहीं दोनों ने एक दुसरे के साथ जीने मरने के वादे भी कर लिए। इस प्रकार दोनों का लव अफेयर परिवार वालो की जानकारी के बिना ही कई महीनो तक चलता रहा।

सबकुछ अच्छा चल रहा था कि तभी नेहा की दीदी ने अपने बेटे की शादी कहीं और तय कर दी। इस बात से नेहा नाराज हो गई और उसने अपने दिल की बात दीदी को बता दी। बस फिर क्या था घर में काफी हंगामा हुआ। परिवार के लोगो ने नेहा को बहुत समझाने की कोशिश की लेकिन वो नहीं मानी। हद तो तब हो गई जब ये मामला सीधा थाने जा पहुंचा। वहां नेहा और उसके परिवार के लोगो की बहुत देर बहसबाजी चलती रही। पुलिस अधिकारीयों ने उन्हें मामला बातचीत से ही निपटा लेने की सलाह दी। कई घंटों की समझाईस के बाद आखिर नेहा अपने परिजनों के साथ घर जाने को राजी हुई।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि ये कोई पहला मामला नहीं हैं जब इस प्रकार की घटना देखने को मिल रही हैं। इसके पहले भी कई ऐसे किस्से सामने आ चुके हैं जिसमे दो सगे रिश्तेदारों को ही आपस में प्यार हो जाता हैं। अब ये लोग प्यार तो कर बैठते हैं लेकिन ये भूल जाते हैं कि समाज और परिवार के लोग इस रिश्ते को कभी स्वीकार नहीं करते हैं। यही कारण हैं कि इस तरह के मामलो में या तो मामला थाने तक जाता हैं या फिर लोग घर से भाग जाते हैं। कुछ लोग तो प्यार के चक्कर में आत्महत्या जैसा कदम तक उठा लेते हैं। वैसे आपको क्या लगता हैं क्या दो सगे रिश्तेदारों का आपस में प्रेम संबंध बनाना सही हैं?