टिक टॉक के लिए बना रहा था कलाबाजी का विडियो, गर्दन के बल ऐसा गिरा कि चली गई उसकी जान..!

इन दिनों इंडिया में युवा लोगो और बच्चों में टिकटॉक एप्प का बड़ा ही क्रेज हैं। इस प्लेटफार्म पर वायरल होने तथा पॉपुलैरिटी पाने के लिए युवा वर्ग सारी हदें पार कर रहा हैं। ये बच्चे अलग लाग केटेगरी में विडियो बना रहे हैं। जैसे डांस, चेलेंज, फनी और स्टंट या कलाबाजी। लेकिन कर्नाटक के रहने वाले एक युवक को टिकटॉक के लिए विडियो बनाने के दौरान कलाबाजी करना इतना भारी पड़ गया कि उसकी जान ही चली गई। लोगो को ये बात समझना जरूरी हैं कि जब फिल्म या डांस रियलिटी शो में कोई व्यक्ति स्टंट करता हैं तो वहां उनका ध्यान रखने के लिए विशेषज्ञों की एक टीम होती हैं। मगर ये बच्चे और युवा लोग इस बात को नहीं समझते हैं और बिना किसी ट्रेनिंग या सावधानी से इस स्टंट को करने लगते हैं।

loading...
यहां हम जिस शख्स की बात कर रहे हैं उसका नाम कुमारस्वामी हैं जो कि कर्नाटक के तुमकुरू जिले का रहने वाला हैं। कुमारस्वामी 22 वर्ष का था। जानकारी के मुताबिक वो अपने दोस्तों के साथ मैदान में टहल रहा था कि तभी उसने एक टिकटॉक विडियो बनाने का सोचा। इसके लिए उसके दोस्त मोबाइल से स्लो मोशन में शूट करने लगे ताकि कलाबाजी अच्छे से दिखाई दे। फिर कुमारस्वामी दौड़ता हुआ अपने एक अन्य फ्रेंड के हाथ पर चड़ा और गुलाटी खाने लगा। अब कायदे से उसे पल्टी खाते हुए अपने पैरो के बल जमीन पर आना था मगर वो ऐसा नहीं कर पाया और सीधा गर्दन के बल जा गिरा। इस वजह से उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गई। ऐसे में उसके दोस्त तुरंत कुमारस्वामी को हॉस्पिटल ले गए। यहां वो 8 दिनों तक रहा और इलाज करवाता रहा लेकिन अफ़सोस की बच नहीं सका और उसकी जान चली गई।

सूत्रों की माने तो कुमारस्वामी अपने परिवार में एक लौता कमाने वाला था। वो एक लोकल ऑर्केस्ट्रा में सिंगर और डांसर था। उसके पास तो स्वयं का स्मार्टफोन भी नहीं था। वह अपने दोस्त के मोबाइल से टिकटॉक विडियो बना रहा था। कुमारस्वामी का ये विडियो अब इंटरनेट पर भी तेजी से वायरल हो रहा हैं। विडियो देखने के बाद लोगो का यही कहना हैं कि आजकल के बच्चों और युवाओं को टिकटॉक पर पॉपुलर होने के चक्कर में कुछ भी रिस्क वाला काम नहीं करना चाहिए।

बता दे कि ये कोई पहला मामला नहीं हैं जब टिकटॉक पर विडियो बनाने के दौरान किसी व्यक्ति की जान गई हैं। इसके पहले एक लड़के ने विडियो शूट करने के दौरान मंगलसूत्र गले में अटका लिया था तो उसकी दम घुटने से मृत्यु हो गई थी। वो ये विडियो अकेला बाथरूम में बना रहा था। इस तरह की घटनाओं के चलते ही मद्रास हाईकोर्ट ने कुछ महीने पर टिकटॉक पर बैन लगा दिया था मगर बाद में उस फैसले को वापिस ले लिया गया।

यदि आपका बच्चा भी टिकटॉक विडियो बनाता हैं तो आप उस पर कड़ी नजर बनाए रखे। उसे कोई भी ऐसा काम ना करने दे जिस से उसकी जान पर बन आए। विडियो बनाते वक्त उसे अकेला भी ना छोड़े। बरहाल आप कर्णाटक के इस युवक का विडियो यहां देख सकते हैं।