उंगलियां चटकाने पर क्यों आती है आवाज ? जाने इसकी दिलचस्प वजह..!

अक्सर लोगों को खाली वक्त में अपने हाथ की उंगलियों को चटकाते देखा होगा। ऐसा दुनिया के 98 प्रतिशत लोग करते हैं और ऐसा करना इंसान के डेली रूटीन में शामिल है। जब भी हम कसरत के दौरान या लैपटॉप पर ज्यादा काम करने के पश्चात उंगलियां चटकाने लगते हैं और ये ज्यादातर लोग करते हैं। उंगलियों को चटकाने में हड्डियों से एक तरह की आवाज आती है मगर शायद ही किसी ने इस सवाल का जवाब ढूंढने की कोशिश की हो। इसके अलावा कुछ लोगों को तो उंगलियां चटकाने की भी आदत हो जाती हैं, लेकिन शायद ही कभी किसी ने इस बारे में सोचा हो कि ये आवाज क्यों आती है। उंगलियां चटकाने पर क्यों आती है आवाज, ये हर व्यक्ति के लिए बड़ा सवाल है लेकिन इस सवाल का जवाब हम आपको आज के इस पोस्ट में बताने जा रहे हैं।

उंगलियां चटकाने पर क्यों आती है आवाज


loading...
वैज्ञानिकों ने इसके दो अलग-अलग वजह बताये हैं। पहला कारण ये है कि उंगलियों के जोड़ के आस-पास एक द्रव या फ्लूड होता है जिसे साइनोवियल फ्लूड भी कहा जाता है और इस फ्लूड में हवा घुली होती है। इसके अलावा जब हम उंगलियों को जरूरत से ज्यादा मोड़ देते हैं तो वही हवा बुलबुलों के रूप में फ्लूड से बाहर निकलती है। इन बुलबुलों की वजह से उंगली चटकाने पर आवाज निकलती हैं जिसे हम उंगली चटकना भी कहते हैं। एक बार चटकने के बाद दोबारा उंगली तब तक नहीं चटकती जब तक वापस वो हवा, उस फ्लूड या द्रव में घुल नहीं जाती।

इसके बाद फिर दोबारा हवा को फ्लूड में घुलने में कम से कम 10 से 15 मिनट का समय लग जाता है। इसके अतिरिक्त इसका दूसरा कारण ये होता है कि हड्डियों के चटकने की आवाज टिश्यू  यानी कि ऊतकों की वजह से भी आना संभव है। जब भी हम अंगड़ाई लेते हैं तो उस दौरान हड्डियों और मांसपेशियों की बीच पाए जाने वाले ऊतकों पर तनाव पड़ने लगता है। जिसकी वजह से यह ऊतक अपनी जगह से हट जाते हैं और हमें हड्डी चटकने की आवाज सुनाई देने लगती हैं। इस प्रकार की प्रक्रिया कई बार हो सकती हैं, इसलिए इस घटना की कोई समय सीमा नहीं तय की जाती।

ज्यादा उंगलिया चटकाना नहीं होता सही


बहुत से लोगों की हर 10 मिनट पर उंगली चटकाने की आदत सी होती है। ब्रिटेन के कई डॉक्टर्स ने एक रिसर्च किया है जिसमें उन्होंने पाया है कि यदि हम जरूरत से ज्यादा उंगलियों की हड्डियों को चटकाएंगे तो हमारी उंगलियों की हड्डियां कमजोर हो सकती है। उन लोगों का ये भी कहना है कि हड्डियां आपस में लिगामेंट (हड्डियों के बीच का जोड़) के जरिए जुड़ी होती है और जब आप हड्डियों को आपस में खींचते हैं तो उनके बीच का यह जोड़ कमजोर होने लगता है जिसकी वजह से उस जगह की हड्डियां कमजोर हो सकती हैं  ज्यादा उंगलियां चटकाने की वजह से आपकी हड्डियां कमजोर हो जाती हैं और आपको गठिया बाई जैसी कई हड्डियों से संबंधित बीमारियां हो सकती हैं।