रूस में कंकाल और ममीज का म्यूजिम बनाया, यहां लोगों को रात गुजारने का अवसर मिलेगा..!

कंकाल और पुरानी ममीज को पसंद करने वालों के लिए रशिया के नोवोसिबिर्स्क शहर में विशेष प्रकार का म्यूजियम डांस ऑफ डेथ (मौत का डांस) बनाया गया है। जल्द ही इसे आम लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। इसके प्रबंधकों का कहना है कि यहां लोगों को रात गुजारने का अवसर भी मिलेगा।

रहन-सहन और पहनावे को दिखाया गया


loading...
म्यूजियम की तस्वीरों में अलग-अलग देशों के लोगों की पहचान, रहन-सहन और उनके पहनावे को दिखाया गया है। इन देशों में इंग्लैंड, फ्रांस, जर्मनी, इटली और रशिया शामिल है। म्यूजिम के हेड सर्जे याकुशिन का कहना है कि हम सबका शरीर नाशवान है। सभी की मौत होती है, इस विचार के साथ प्रदर्शनी की शुरुआत की गई है। यही एक बात प्रत्येक इंसान को सामाजिक स्तर, धन और धर्म से ऊपर उठकर समान दिखाती है। इसमें 80 कंकाल और ममीज को पीरियड कॉस्ट्यूम में रखा गया है।

सर्जे याकुशिन का कहना है कि हर उम्र वर्ग का अमीर इंसान, किसान और कलाकार को हम समान दिखाने की प्रयास कर रहे हैं। इन सभी की ड्रेस वास्तविक हैं, ये यूरोपीय देश और रशिया से यहां लाई गई हैं। 17वीं से 19वीं शताब्दी में लोगों के पहनावे जैसा लुक दिया गया है।

प्रदर्शनी को मध्यकालीन युग की धारणा नृत्य या मौत के आधार पर तैयार किया गया है। जो 20वीं शताब्दी के शुरुआती कल्चर का भाग था। सर्जे याकुशिन का कहना है कि प्रदर्शनी का आइडिया हमारा है और इसमें कुछ ओरिजनल ममीज हैं। इसके अलावा कुछ आर्टिफिशियल ममी को भी प्रदर्शनी का भाग बनाया गया है।