एक युवक के पेट में बना था कबाड़ का 'गोदाम', 4 घंटे ऑपरेशन के पश्चात डॉक्टरों ने निकाले लोहे के 33 आइटम..!

मध्य प्रदेश के छतरपुर के एक युवक के पेट में कबाड़ का गोदाम बना हुआ था। लगभग चार घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद युवक के पेट से धातु के 33 टुकड़े निकले हैं। जिसे देखकर डॉक्टर और परिजन दोनों हैरान हैं। छतरपुर जिले के ईशानगर के रहने वाले युवक के पेट में एकाएक दर्द होने से परिजन एक निजी अस्पताल में इलाज कराने ले गए। जहां पर डॉक्टर द्वारा परीक्षण के बाद युवक के पेट का ऑपरेशन किया गया। जिसमें मरीज के पेट से लोहे की कील, ब्लेड आदि निकाले गए।
loading...
जानकारी के अनुसार ईशानगर निवासी 30 वर्षीय युवक योगेश ठाकुर ने बीते कुछ दिनों पूर्व लोहे की कील गटक ली थी। जिसके कुछ दिन बाद उसके पेट में दर्द होने लगा। इसकी जानकारी योगेश अपनी मां को दी। जिसे छतरपुर के डॉक्टरों को दिखाया। तो उन्होंने मामूली दर्द बता कर कुछ दवाइयां दे दी। जब दर्द समाप्त नहीं हुआ तो योगेश को ग्वालियर ले जाकर स्वास्थ्य परीक्षण कराया।

एक्सरे में मिली जानकारी
डॉक्टरों ने जब योगेश ठाकुर का एक्सरे करवाया तो उसके पेट में लोहे की कीलें होने की जानकारी मिली। उसके पश्चात डॉक्टर ने ऑपरेशन करवाने को कहा। मंगलवार को परिजन ग्वाललियर जाने की तैयारी कर रहे थे तो योगेश के पेट में फिर से तेज दर्द होने लगा। तो छतरपुर में ही डॉ एमपीएन खरे के अस्पताल में भर्ती कराया। जहां दोपहर तीन बजे से ऑपरेशन शुरू हुआ।
योगेश का ऑपरेशन करीब तीन से चार घंटे तक चला। इस दौरान डॉक्टरों को बोरी सिलने वाला सूजा, कील, ब्लेड, आरी टुकड़े, चमड़े के बेल्ट के टुकड़े, पेन समेत 33 चीजें पेट से निकलीं। डॉ एमपीएस खरे ने बताया कि उन्होंने अपनी इतनी लंबी प्रैक्टिस में यह पहला ऑपरेशन किया है, जो बहुत आश्चर्यजनक और कठिनाइयों से भरा था। मरीज अब स्वस्थ है।