रात को 4 बच्चों के साथ मायके से वापस लौटी महिला, सुबह कुएं में पड़े मिले सभी के लाश, हत्या-आत्महत्या में उलझी गुत्थी...!

मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले के गांव खजूरना में एक महिला व उसके चार बच्चों के लाश ​कुएं में मिले है। पुलिस की शुरुआती जांच में मामला आत्महत्या का लग रहा है जबकि मृतका के पिता ने हत्या की आशंका जताई है। ऐसे में पूरा मामला हत्या या आत्महत्या की गुत्थी में उलझा हुआ हैं वास्तविक कारणों का पता पुलिस की विस्तृत जांच में चल पाएगा। पुलिस के अनुसार महिला मंगलवार रात को अपने मायके से वापस लौटी थी। उसका पति प्रभुलाल बंजारा काम के सिलसिले में तमिलनाडु गया हुआ है। बुधवार सुबह लोगों को महिला व उसके चार बच्चों के लाश पड़े होने का पता चला। मृतकों की शिनाख्त प्रभुलाल बंजारा की पत्नी बतुलबाई (32), बेटी पिंकी (8), कनिका (3), बेटे लकी (6) और संजय (5 माह) के रूप में हुई है।
loading...
पुलिस के अनुसार प्रभुलाल एक महीने से कंबल बेचने तमिलनाडु गया हुआ है। घर पर उसकी पत्नी बतुलबाई चार बच्चों के साथ रह रही थी। मंगलवार शाम को वह बतुलकुंवर मायके कुआखेड़ा से ससुराल लौटी थी। पुलिस जांच में यह बात भी सामने आई है कि अपने घर की चाबी गुम होने से वह ताला तोड़ रही थी, तभी पास में रहने वाली ननद जमुना ने उसे ऐसा करने से रोका। इस पर दोनों के मध्य विवाद भी हुआ था। बाद में दोनों अपने घर में चली गईं। आसपास के लोगों का कहना है कि मंगलवार रात लगभग 11 बजे तक बतुलबाई को घर पर ही देखा गया।
बुधवार सुबह करीब सात बजे गांव की महिला ने कुएं में एक बच्चे का शव देखा। पुलिस को सूचित करने पर गरोठ एएसपी विनोद सिंह, एसडीओपी फूलसिंह परस्ते, थाना प्रभारी ओमप्रकाश तंतवार घटनास्थल पहुंचे तथा ग्रामीणों की मदद से शवों को बाहर निकलवाकर सरकारी हॉस्पिटल के मुर्दाघर में रखवाया।

पिता के आरोप
बतुलबाई के पिता कारूलाल बंजारा ने बेटी व उसके बच्चों की हत्या का इल्जाम लगाया है। उसका कहना है कि मंगलवार को ही वह गांव कुआखेड़ा आई थी। ससुराल वाले, विशेष रूप से ननद जमुना और उसके घर आने-जाने वाला बशीर राणा निवासी भानपुरा परेशान करते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि या तो सभी को कुएं में धक्का दिया गया है या उनकी हत्या कर कुएं में फेंका गया है।