दबंगो ने सरेराह फाड़ दिए लड़की के कपड़े, इसके पश्चात 7 वर्ष के बच्चे ने जो किया वो..!

एक ओर, राज्य सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण की बात दोहराई जाती है, वहीं गरीब महिलाएं और लड़कियां खुले में सड़कों पर अपना सम्मान करने में सक्षम नहीं हैं। ताजा मामला पटना सिटी के चौक थाना क्षेत्र के चौक चौकपुर स्थित आरपीएम कॉलेज से सामने आया है। यहां 12 वीं की छात्रा के साथ आए दिन छेड़खानी होती थी। जब छात्रा ने उसका विरोध किया तो मनचलों ने पिस्टल तानकर छात्रा की टी-शर्ट को फाड़ कर उसे अर्धनग्न कर दिया।
loading...
यह बीच सड़क पर हो रहा था और मौजूद लोग खड़े होकर तमाशा देखने में व्यस्त थे। बाद में, एक 7 साल के बच्चे ने छात्र को अपना तौलिया देकर उसका सम्मान बचाया। घटना की जानकारी मिलते ही भाजपा महिला मोर्चा के सदस्य लड़की को लेकर चौक थाने पहुंचे, जहां इस संबंध में अज्ञात मनचलों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराया गया है।
मामला दर्ज होते ही पुलिस पूरे मामले की जांच में लग गई है। वहीं पुलिस कॉलेज के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगालने में जुटी है। ऐसा कहा जाता है कि 12 वीं में प्रवेश के लिए आरसीएम कॉलेज, चकपुर के आरसीएम कॉलेज में दाखिला लेने वाली मालसलामी की छात्रा थी। दाखिले के पश्चात, वह अपने घर वापस लौट रहा था। उसी दौरान 4 लफंगे उसके साथ छेड़खानी शुरू कर दिए। विरोध करने पर उन्होने पिस्टल तान दिया और टी-शर्ट फाड़ दिया।
पीड़िता ने कहा कि लड़का उसे भद्दी-भद्दी गालियां दे रहा था, जब उसने मना किया तो उसने उसके साथ ऐसा किया। घटना सड़क पर हो रही थी मगर कोई उसे बचाने नहीं आया। भाजपा महिला मोर्चा के सदस्यों ने महिला सुरक्षा के मुद्दे को दोहराते हुए कॉलेज में पुलिस बल की तैनाती की मांग की है।