घर में रहने लगा था सर्प, एक साल में नानी-दोहिती की ली जान, तीसरे शिकार से पहले यूं पकड़ा गया..!

राजस्थान के करौली जिले की हिण्डौन सिटी की शिव कॉलोनी में सांप के वजह से एक परिवार ​सालभर दहशत में रहा। सांप परिवार के दो सदस्यों की जान ले चुका है। बुधवार को कड़ी मशक्कत के पश्चात सांप पकड़ में आया तब परिवार ने राहत की सांस ली।
loading...
दरअसल, शिव कॉलोनी में सुनील के घर में उसकी 8 वर्ष की बेटी गौरी को करीब 1 वर्ष पूर्व घर में सर्प ने डस लिया था। उसकी उपचार के दौरान मृत्यु हो गई। परिजनों ने इसे हादसा माना, लेकिन 14 जून को सुनील की सास और मृत बालिका गौरी की नानी 40 वर्षीय ममता राजपूत निवासी करसाड़ा एक पारिवारिक कार्यक्रम में हिण्डौन अपने बेटी दामाद के घर आई हुई थी।
रात को सोते वक्त वह भी सर्पदंश का शिकार हो गई। दूसरे दिन उसने भी उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। सालभर के दौरान ही परिवार के दो सदस्यों की सर्पदंश से मौत हो जाने पर परिजन चिंचित हो गए और घर में तलाश प्रारंभ की तब पता चला कि घर में एक बिल में सर्प रहता है।
इस पर परिजन गंगापुर सिटी गए और वहां से सपेरों को बुलाकर लाए। सपेरों ने काफी मशक्कत के बाद सांप को पकड़ा और उसे जंगल में छुड़वाया। सपेरा शिव ने बताया कि बिल काफी पुराना लग रहा था। ऐसे में अनुमान है कि यहां पर सांप लम्बे समय से रह रहा था। उसे पकड़ने के तमाम जतन किए तब जाकर वह पकड़ा जा सका।