जाने ऐसा क्या हुआ की माँ ने नहीं पिलाया दूध,भूख से तड़प रहे मासूम बच्चे को महिला पुलिस कांस्टेबल ने पिलाया दूध...!

UP पुलिस की एक महिला कॉन्स्टेबल ने यहां एक बेसहारा मां और उसके बच्चे की मदद कर मानवता की मिसाल कायम की। एटा के SP ऑफिस में हाल ही में अपनी फरियाद लेकर पहुंची एक महिला के साथ वर्षा की तस्वीर अब सोशल मीडिया पर सराहना का विषय बनी हुई है, जिसमें वर्षा अपनी गोद में लिए एक बच्चे को दूध पिलाती दिख रही हैं। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, जिस महिला के साथ वर्षा इस तस्वीर में दिख रही हैं, वह एसपी ऑफिस में अपने भूखे बच्चे के साथ पहुंची थी और उनके पास पैसे भी नहीं थे। ऐसे में वर्षा ने स्वयं उनकी मदद के लिए हाथ बढ़ाए और बच्चे के लिए तुरंत दूध का इंतजाम भी कराया। एटा पुलिस के मीडिया इंचार्ज अतुल राठौर ने बताया कि महिला के पति ने दूध की जगह अपने लिए शराब खरीदी थी, जिसके बाद विनीता और उसके बीच विवाद हुआ था।
loading...
दरअसल, मथुरा जिले की निवासी विनीता नाम की एक महिला बुधवार को अपने पति और छोटे से बच्चे के साथ एटा जिले में किसी काम से पहुंची थी। इसी बीच एटा में विनीता का उनके शराबी पति से विवाद हो गया, जिसके बाद उनके पति ने पत्नी और बच्चे को सड़क पर ही छोड़ दिया और वहां से चला गया। बेसहारा हाल में 6 महीने के भूखे बच्चे के साथ विनीता पूर्व शहर में इधर-उधर भटकती रहीं और फिर सहायता की आस में यहां एसपी कार्यालय में पहुंचीं। एसपी ऑफिस में पहुंची विनीता अपने पति के व्यवहार और बच्चे के भूख से रोने के कारण परेशान थीं और जब कोई सहयोग नहीं मिली तो विनीता एसपी ऑफिस में लगे एक नल से पानी पिलाकर अपने 6 महीने के बच्चे की भूख शांत करने की प्रयास करने लगीं।
इस बीच SP ऑफिस के शिकायत प्रकोष्ठ में काम करने वाली वर्षा ने महिला को देखा और फिर उनसे जाकर बच्चे के विषय में पूछा। वर्षा के अनुसार, विनीता अपने बच्चे की दूध बॉटल में पानी भरकर 6 महीने के बच्चे की भूख शांत करने का प्रयास कर रहीं थी, जब वर्षा ने उनसे इसका कारण पूछा तो विनीता ने बताया कि पैसे ना होने के वजह से  वह अपने बच्चे को पिलाने के लिए दूध नहीं खरीद पाई हैं और उनके पति विनोद झगड़े के पश्चात उन्हें सड़क पर छोड़कर कहीं चले गए हैं।
विनीता की आपबीती सुनकर वर्षा ने तुरंत दोनों को अपने दफ्तर में बैठाया और फिर पास की दुकान से बच्चे के लिए दूध और विनीता के लिए कुछ खाने का सामान मंगवाया। इसके पश्चात वर्षा ने स्वयं बच्चे को अपने हाथ से दूध भी पिलाया। बच्चे के शांत होने के बाद वर्षा ने विनीता को कुछ पैसे और अपना कॉन्टैक्ट नंबर देकर घर वापस भेजने की व्यवस्था की। इस दौरान वर्षा ने विनीता से यह भी कहा कि वह घर पहुंचने के बाद उन्हें फोन कर इसकी जानकारी दें और कोई जरूरत होने पर बेहिचक संपर्क भी करें। इस पूरे वाकये के बाद वर्षा की तस्वीर को यूपी पुलिस ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया, जिसके बाद बहुत लोगों ने वर्षा के मानवतापूर्ण व्यवहार की सराहना की।