थाने में बैठकर नवजात बच्ची को स्तनपान करा रही थी यह महिला सिपाही, इसके पश्चात जो हुआ वो...!

साल 2018 में, झांसी में तैनात महिला सैनिक अर्चना जयंत को मदर कॉप के सम्मान से सम्मानित किया गया था। उन्हें यह सम्मान अपनी छह माह की बेटी को ड्यूटी के स्तनपान कराने के लिए दिया गया था। उस वक्त अर्चना जयंत की तस्वीरें वायरल हुई थीं, इसलिए डीजीपी ने उन्हें सम्मानित किया।
loading...
उत्तर प्रदेश के लखनऊ में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। मगर यहां महिला सिपाही पर मां की ममता की मार पड़ी। अपनी बच्ची के ड्यूटी के दौरान थाने में बैठकर दूध पिलाने पर एक महिला सिपाही को ससपेंड कर दिया गया है। सिपाही ने अब न्याय के लिए डीजीपी कार्यालय का दरवाजा खटखटाया। वहीं डीजीपी ने इस मामले की जांच प्रारंभ कर दी है।
महिला कॉन्स्टेबल सुचिता सिंह, जो 1090 कैंपस में तैनात थीं, अपनी दूधमुंही बच्ची के साथ ड्यूटी कर रही थीं। सुचित्रा ने इल्जाम लगाया है कि उसे बच्चे को साथ लेकर काम करने के लिए निलंबित किया गया। 1090 पर तैनात एक अन्य महिला कांस्टेबल ने भी उत्पीड़न का आरोप लगाया है। महिला सिपाही की शिकायत पर डीजीपी ने मामले की जांच शुरू कर दी है।