खूबसूरत महिला दरोगा खेल रही थी 'गंदा खेल', मामूली सी गलती से खुल गया रहस्य..!

यूपी के फैजाबाद में एक सनसनीखेज़ मामला सामने आया है। यहां वाहन जांच के दौरान पुलिस ने एक फर्जी महिला दारोगा को गिरफ्तार किया है। हैरान करने वाली बात ये है कि ये लड़की दरोगा की वर्दी पहनकर खुलेआम सड़क पर बिना हेल्मेट के स्कूटी से घुम रही थी। इस फर्जी महिला दरोगा का भेद उस वक्त खुल गया जब चेकिग के दौरान यह पुलिस वालों के सवालों का जवाब नहीं दे सकी।

क्या है पूरा मामला?
loading...
दरअसल, पुलिस ने वाहन जांच के दौरान एक फर्जी महिला दरोगा को पकड़ा है। बताया जा रहा है कि वह बिना हेलमेट के दबंग स्टाइल में स्कूटी पर घुम रही थी। बिना हेल्मेट के देखकर पुलिस वालों ने उसे रोका तो वह सिपाहियों से भिड़ गई और उनपर अपनी वर्दी का रौब दिखाने लगी।
जिसके पश्चात मामला बढ़ता गया तो असलियत सामने आई। उच्चाधिकारियों ने जब उससे पूछताछ की तो यह लड़की फर्जी दरोगा निकली। जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर कोतवाली ले जाकर पूछताछ किया। पूछताछ के बाद यह बात सामने आई है कि वह फर्जी दरोगा बनकर लोगों पर रौब झाड़ती फिरती थी।

कमरे से मिली फर्जी नेम प्लेट व वर्दी
लड़की की वर्दी पर रुकमणि तिवारी नाम का नेम प्लेट लगा था। जिसके आधार पर जांच किया गया तो पता चला कि जिले में इस नाम की कोई महिला दरोगा तैनात नहीं है। इस लड़की का वास्तविक नाम संध्या तिवारी है तथा यह गोंडा जिले की रहने वाली है। यह लड़की शहर के जनौरा स्थित तिलकनगर में किराए के एक मकान में रहती है। उसके कमरे की तलाशी में पुलिस को कई वर्दियां, स्टार, नेम प्लेट व फर्जी आईडेंटी कार्ड मिले हैं। पूछताछ में लड़की ने अपना नाम संध्या तिवारी बताया। यह फैजाबाद में खुद को दरोगा बताकर किराये के मकान में रहती थी।

कैसे पकड़ी गई फर्जी महिला दरोगा?
नगर कोतवाली पुलिस मकबरा नाका चौराहे पर वाहनों की चेकिंग कर रही थी, इसी दौरान पुलिसकर्मियों ने स्कूटी सवार इस लड़की को पुलिस की वर्दी पहने देखा तो रोक लिया। बिना हेल्मेट के देखकर पुलिस वालों ने उसे रोका तो वह सिपाहियों को रौब दिखाने लगी। जिसके पश्चात मामला बढ़ता गया और अंत में इसकी असलियत सामने आ गई। उच्चाधिकारियों ने जब उससे पूछताछ की तो यह लड़की फर्जी दरोगा निकली।
जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर कोतवाली ले जाकर पूछताछ किया। पूछताछ के बाद यह बात सामने आई है कि वह फर्जी दरोगा बनकर लोगों पर रौब झाड़ती फिरती थी। फेसबुक पर भी इसने दारोगा की वर्दी वाली अपनी कई तस्वीर डाल रखी है, ये बात सामने आई है कि यह फर्जी दरोगा बनकर किसी ट्रेनी दरोगा को अपने प्यार के जाल में फंसा रही थी।