प्रदूषित पानी पीने से मासूम भाई-बहन की मृत्यु, कई बच्चे बीमार, जांच के आदेश..!

फिरोजाबाद के थाना उत्तर क्षेत्र में एक परिवार के दो मासूम बच्चों की मृत्यु हो गई। दोनों भाई-बहन थे। परिजनों का आरोप है कि नगर निगम के नल से आए दूषित पानी पीने से बच्चों की मौत हुई है। इस पर जिलाधिकारी ने जांच के आदेश दिए हैं। थाना क्षेत्र के आनंद नगर में सोमवार रात को प्रेमचंद सविता के चार वर्षीय पुत्र विक्की तथा पांच वर्षीय पुत्री लक्ष्मी की मृत्यु हो गई। मासूम बेटा-बेटी की मौत से परिवार सदमें में है। सप्लाई का पानी पीने से दोनों बच्चों की तबीयत बिगड़ गई थी।
loading...
मृतक बच्चों के पिता ने बताया कि मोहल्ले में नगर निगम द्वारा दूषित पानी की सप्लाई हो रही है। इसी पानी को पीने से उसके बच्चों की मृत्यु हुई है। वहीं मोहल्ले में 30 से ज्यादा बच्चे उल्टी-दस्त से पीड़ित हैं। इनमें कुछ बच्चों की हालत गंभीर बताई है।

मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी
उधर, दूषित पानी पीने से बच्चों की मौत की खबर से प्रशासन में बवाल मच गया। सूचना मिलते ही जिलाधिकारी चंद्र विजय सिंह, महापौर नूतन राठौर सहित नगर निगम के अफसर मौके पर पहुंच गए। जिलाधिकारी ने लोगों से जानकारी ली। इस संबंध में जिलाधिकारी ने कहा कि स्थानीय लोगों ने शिकायत की थी कि दूषित जल की सप्लाई हो रही है। जल की जांच के आदेश दिए गए हैं। वहीं क्षेत्र में गंदगी फैली है। इसके लिए जो जिम्मेदार है, उस पर कार्रवाई की जाएगी।

सुपर वाइजर के पास एक्सपाइरी डेट की दवा 
हद तो तब हो गई जब बच्चों की मौत पर मोहल्ले में चीख-पुकार मची थी, उसी समय स्वास्थ्य विभाग का सुपरवाइजर उल्टी दस्त की दवाई बांटने पहुंचा, मगर उसके पास एक दवा एक्सपायरी डेट की मिली। इसका पता चलने पर लोगों ने बवाल कर दिया।