सामने आ गयी अजितेश की सच्चाई, नहीं है दलित..!

उत्तर प्रदेश के बरेली के वीर सावरकर नगर में विधायक की बेटी से शादी का मामला अभी थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। ये विवाह करके चर्चा में आए अजितेश भी उसी जगह रहते है। अजितेश के विषय में वहीं के कुछ लोग बता रहे हैं, कि उन्हें अब पता चला कि अजितेश दलित है।
loading...
क्योंकि वहां के लोगो को अजितेश खुद को क्षत्रिय बताता था। वीर सावरकर नगर कल्याण समिति के अध्यक्ष एके सिंह ने बताया कि अजितेश ने अपनी गाड़ी पर ठाकुर लिखवा रखा था। अब हमें तो एकाएक टीवी चैनलों से पता चला की दलित हो गया है। अजितेश नशा भी करता था क्योंकी उसका चिलम पीते एक वीडियो फेसबुक पर वायरल हो रहा है।
इसके अतिरिक्त वीर सावरकर नगर के रहने वाले दिनेश गिरि, युवा सिंधी समाज के संगठन मंत्री रवि लेखवानी ने कहा कि अजितेश मोहल्ले में अपनी गुंडागर्दी दिखाता था। उस पर प्रेमनगर थाने तथा इज्जतनगर थाने में मुकदमे दर्ज हैं। पिछले दिनों सपा नेता वैभव गंगवार और उनके साथ के लोगों ने किला थाने में काफी हल्ला मचाया था। पुलिस के साथ गाली-गलोंच और अभद्रता की थी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने मामले की जांच का आदेश दिया और पुलिस ने वैभव गंगवार को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।
वैभव गंगवार के साथ थाने में अजितेश भी हंगामा और बवाल करते नजर आ रहे हैं। अब दोबारा से किला थाने में बवाल करने वाला वीडियो वायरल हो गया है, जिसमें वैभव गंगवार के साथ अजितेश भी नजर आ रहे हैं I पिस्तौल के साथ डिस्को करते हुये अजितेश के कई फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।