पोस्टमार्टम के लिए नहीं मिला एम्बुलेंस तो नगर पालिका के कचरा वाहन में लाश को हॉस्पिटल पहुंचाया गया..!

मध्य प्रदेश में कचरे की गाड़ी में लाश को लेकर जाने का मामला सामने आया है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस मामले को इंसानियत व मानवता के खिलाफ बताते हुए दोषियों पर सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं। मामला अशोक नगर जिले का है। यहां पठार मोहल्ला निवासी एक महिला ने अपने घर में फांसी लगाकर खुदखुशी कर ली थी।
loading...
महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल लाने के लिए जब शव वाहन नहीं मिला, तो परिजन ट्रैक्टर ट्रॉली में शव लेकर निकले, मगर रास्ते में ही ट्रॉली का पहिया निकल गया। ऐसे में जब दूसरा कोई वाहन नहीं मिला तो नगर पालिका के कचरा वाहन में शव को अस्पताल पहुंचाया गया।
महिला के शव को कचरा वाहन में ले जाने का मामला सामने आने पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सख्त ऐतराज जताते हुए इसे मानवता व इंसानियत के खिलाफ बताया। उन्होंने इस संबंध में बुधवार को ट्वीट किया, "अशोकनगर में एक महिला के शव को वाहन के स्थान पर कचरा गाड़ी व डंपर में ले जाने की घटना इंसानियत व मानवता को तार-तार कर देने वाली है।
ऐसी घटनाएं दिल को झकझोर देती हैं और बर्दाश्त नहीं की जा सकती। लापरवाही बरतने वाले दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।"