नफरत फैलाते हुए कैमरे में कैद हुआ सपा का विधायक, बोला-बीजेपी समर्थक दुकानदारों से ना खरीदें सामान..!

इस देश में कुछ ऐसे लोग भी हैं जिनका काम केवल नफरत फैलाना होता है और ये किसी भी धर्म या मजहब के हो सकते हैं। उनके लिए किसी का लड़ना-मरना कोई मतलब नहीं रखता है बल्कि वे क्या चाहते हैं इससे उनका खास मतलब होता है। लेकिन अपने ही देश में नफरत फैलाने का क्या मतलब है, शायद ये बात एक विधायक साहब नहीं जानते हैं। नफरत फैलाते कैमरे में कैद हुआ सपा का विधायक, कुछ लोगों से इनका कहना है कि बीजेपी समर्थकों से सामान नहीं लें।

नफरत फैलाते कैमरे में कैद हुआ सपा का विधायक
loading...
उत्तर प्रदेश के कैराना विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी के विधायक नाहिद हसन ने ऐसा विवादित बयान दिया है। नाहिद हसन ने लोगों से अपील की है कि बीजेपी का समर्थन करने वाले दुकानदारों से सामान बिल्कुल नहीं खरीदें। इनके इस बयान का वीडियो भी चर्चा में आ गया है औऱ यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। जिन्होने वीडियो देखा है वे साफतौर पर ये देख सकते हैं कि विधायक नाहिद हसन अपने विधानसभा क्षेत्र के मुस्लिम समाज के लोगों को बीजेपी समर्थकों की दुकान से समान ना लेने की अपील कर रहे हैं। इनका कहना है कि हम सामान खरीदते हैं तो भाजापाइयों की दुकान चलती है तथा इनका घर भी इसी से चलता है, इसलिए सभी भाईयों से अपील है कि बीजेपी समर्थकों वाले दुकानदार से सामान लेना बंद कर दें।
वायरल वीडियो में मुस्लिम समुदाय के लोगों से बीजेपी जुड़े दुकानदारों से सामान लेने की अपील कर रहे हैं और लोग उन्हें काफी एकाग्रता के साथ सुन भी रहे हैं। दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी बीजेपी के उन्नाव से सांसद साक्षी महराज ने एक बार फिर मॉब लिंचिंग में मारे गए तरबेज अंसारी पर विवादित बयान देकर सुर्खियों में आ गईं। उन्होंने कहा कि यह मीडिया का दुर्भाग्य है कि जहां तरबेज अंसारी तो याद आता है मगर सैकड़ों हिंदू मारे गए ये याद नहीं है। साक्षी महाराज उन्नाव जनपद के एक गेस्ट हाउस में आयोजित भाजपा सदस्यता अभियान के अंतर्गत एक कार्यक्रम में पहुंची थीं।
उन्होने कहा था कि कश्मीर में सैनिकों के साथ क्या हो रहा था वे भी उन्हें याद नहीं है। चांदनी चौक में मंदिर तोड़ते हैं तो वो भी आपको दिखाई नहीं दे रहा, छोटी-छोटी लड़कियों के साथ बलात्कार होता है तो वो भी अनदेखा कर दिया जाता है। आप केवल तबरेज अंसारी की बात करते हैं जबकि सैकड़ों हिंदू मारे गए ये किसी को याद तक नहीं है। आजकल के नेता इसी प्रकार के विवादित बयान देकर सुर्खियां तो बटोर लेते हैं लेकिन बाद में इन्हें इसी के चक्कर में जनता वोट ना देकर बता देती है कि उन्हें उनकी ऐसी हरकतें पसंद नहीं है। यदि सपा विधायक ने ऐसा बयान दिया है तो बीजेपी भी पीछे नहीं रहती है।