यह दादा बच्चों को शराब और सिगरेट पीना सिखा रहा है, विडियो देखकर आपका भी फूट पड़ेगा क्रोध..!

बच्चे काफी मासूम होते हैं। उन्हें दुनियांदारी की समझ नहीं होती हैं। हम उन्हें जैसा सिखाते हैं वो सिख जाते हैं। जो कहते हैं वो उसे ही सही मान लेते हैं। ऐसे में हम बड़ो की यही जम्मेदारी होती हैं कि हम इन बच्चों को अच्छी सिख दे ताकि ये आने वाली जनरेशन समाज में अच्छा काम कर सके। अगर आप इन्हें गलत शिक्षा देंगे तो ये आगे चलकर समाज के लिए तो खतरा बनेंगे ही लेकिन साथ ही खुद का भविष्य और जीवन भी बर्बाद कर देंगे। ऐसे में इनके बड़े होते हुए इन्हें एक सही डायरेक्शन मिलना बहुत जरूरी होता हैं। हालाँकि हर कोई इस बात की गंभीरता को नहीं समझता हैं और अपने निजी स्वार्थ या मजे के लिए बच्चों को गलत सिख देने लगता हैं। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश से आया हैं जहाँ एक वृद्ध व्यक्ति छोटे छोटे बच्चों को अल्फाबेट्स सिखाने के बहाने बीड़ी और शाराब जैसी चीजों का सेवन भी सिखा रहा हैं।
loading...
जानकारी के अनुसार ये पूरा मामला यूपी के बहादुरपुर का हैं। इस वायरल विडियो में एक बुढ़ा व्यक्ति ग्लास में शराब भर रहा हैं तो वहीं दूसरा व्यक्ति विडियो रिकॉर्डिग कर रहा हैं। बुढ़ा आदमी बच्चों को पढ़ाते हुए कहता हैं “A फॉर अल्कोहल (शराब), B फॉर बीड़ी” इसके पश्चात वो 3 से 4 साल की उम्र वाले दो बच्चों के ग्लास में शराब डाल देता हैं। विडियो बनाने वाला शख्स इन बच्चों को एक मिनट के अंदर शराब का ग्लास खाली करने के लिए कहता हैं। ये गलत चीज यहीं थमने का नाम नहीं लेती हैं। इसके पश्चात वृद्ध व्यक्ति अपनी बीड़ी सुलगाता हैं और बच्चों को सिखाता हैं कि बीड़ी किस तरह से पी जाती हैं। इसके बाद वो एक बच्चे को बीड़ी देते हुए बताता हैं कि उसे हाथ में कैसे पकड़ना हैं। बच्चा भी उनकी बात मानकर बीड़ी हाथ में लेता हैं और इसके कुछ कस लगा लेता हैं। फिर वह अपने साथी बच्चे के हाथ में इस बीड़ी को थमा देता हैं।
माना जा रहा हैं कि विडियो में जो बुढ़ा शख्स दिखाई दे रहा हैं वो बच्चो का दादा हैं। जब बच्चे उसकी बात मानकर शाराब पीते हैं और बीड़ी फूकते हैं तो वो बदले में उन्हें प्यार से स्नेक्स देता हैं। भाग्यवश ये पूरा मामला अतरौली पोलके स्टेशन की नजर में आ गया। ऐसे में पुलिस ने इस मामले को लेकर सख्त कारवाई करने की ठान ली। अलीगढ़ के एसएसपी का कहना हैं कि अभी फिलहाल हम इस मामले की तह तक जा रहे हैं। ये एक निंदनीय कृत्य हैं। दोषियों के खिलाफ उचित करवाई की जाएगी। बरहाल आप इस पुरे मामले का विडियो यहाँ देख सकते हैं। यदि आप भी इस प्रकार की हरकते अपने आस पास होता देखे तो उसे रोकने का या उसके खिलाफ रिपोर्ट करने का प्रयास जरूर करे। हर माता पिता को ये बात समझनी चाहिए कि बच्चे अपने आसपास के वातावरण से ही सबकुछ सीखते हैं। इसलिए आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वो किसी भी बुरी आदत को न सिख जाए