भाई से बिछड़ी बहन को फेसबुक ने मिलवाया, अब 14 साल बाद बांधेगी राखी

एक बहन 14 साल बाद अपने भाई से मिली। दोनों को मिलाने में फेसबुक मददगार साबित हुआ है। सालों बाद अब यह बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बांध सकेगी। दरअसल, किशोरी ने बताया कि जब वह 3 साल की थी, तब उसकी मां उसे अपने साथ लेकर चली गई और किसी दूसरे से शादी कर ली थी। एक दिन बात करते हुए उसकी मां ने भाई का नाम बताया। फिर उसने फेसबुक पर भाई की आईडी सर्च की और नंबर निकालकर संपर्क किया। इसके बाद उसका भाई बिछड़ी बहन को लेने आ गया।
loading...
पुलिस के अनुसार, काजल ने बताया कि 2005 में मैं जब वह 3 साल की थी, तब मम्मी ने पापा और बड़े भाई अभिषेक को छोड़ दिया था। मम्मी उसे लेकर चली गई थी और दूसरी जगह शादी कर ली थी। वह अपनी मम्मी के साथ मोदीनगर की गोविंदपुरी में रह रही थी। काजल का आरोप है कि दूसरी शादी करने के बाद उसकी मम्मी और उसका सौतेला पिता उसे परेशान करते थे। काजल के मुताबिक उसने अपने भाई और पापा को ठीक से भी नहीं देखा था। कभी अपने भाई को राखी भी नहीं बांधी थी।
एक दिन बात करते समय मम्मी ने भाई का नाम बताया। उसके बाद उसने फेसबुक पर भाई के नाम की आईडी सर्च की। जिसके बाद उसे मोबाइल नंबर मिला और उसने फोन किया। भाई से बात करने के बाद वह उसे लेने आ गया। थाना प्रभारी संजीव शर्मा के मुताबिक, दिल्ली के रहने वाले एक शख्स की पत्नी ने 2005 में मोदीनगर के एक युवक से कोर्ट मैरिज कर ली थी। 
महिला अपने 11 साल के बेटे को पति के पास छोड़कर 3 साल की बेटी को अपने साथ ले गई थी। अब लड़की 17 साल की है और बीए कर रही है। सोमवार को भाई से संपर्क करने के बाद दोनों कोतवाली आए और किशोरी ने भाई और पिता के साथ रहने की इच्छा जताई। जिसके बाद उसे एसडीएम कोर्ट में बयान दर्ज कराने के बाद भाई के साथ दिल्ली भेज दिया गया।