रोगी की आंत से निकला 6.3 फुट लंबा जिंदा कीड़ा, जानिए पेट में कैसे आया..!

कैथल शहर के जयपुर अस्पताल के सर्जन डॉक्‍टर देवेंद्र सिंह पंवार ने जींद निवासी एक रोगी के पेट का सफल ऑपरेशन करते हुए उसकी आंतों से एक 6 फुट 3 इंच का जिंदा कीड़ा निकाला हैं।इस कीड़े का वैज्ञानिक नाम टिनिया सोलियम हैं।चिकित्सक का दावा है कि उत्तर भारत में किसी रोगी के पेट से निकाले जाने वाला यह सबसे बड़ा कीड़ा हैं। इससे पहले इतना बड़ा किसी रोगी के पेट में होने बारे उसने न तो सुना और न ही देखा हैं।
loading...
एक रिपोर्ट अनुसार विश्व के मेडिकल इतिहास में एक रोगी के पेट से 82 फुट तक लंबा कीड़ा निकाला हुआ हैं।डॉ पंवार ने बताया कि रोगी को पिछले 15 दिनों से बुखार और पेट दर्द था और उसने जींद में चिकित्सकों को भी अल्ट्रासाउंट रिपोर्ट एवं एक्सरे दिखाए।वहां चिकित्सकों ने उपचार करने के बाद उसे पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया,जिसके बाद रोगी बहुत पेट दर्द होने के चलते जयपुर अस्पताल में रात्रि 9.30 बजे दाखिल किया गया।

सुअर का अधपका मांस खाने से बनता है ये कीड़ा
रोगी की आंते फट गई थीं।इसके बाद रात्रि 11.30 बजे ऑपरेशन किया गया।ऑपरेशन के दौरान पाया कि रोगी की छोटी आंत फटी हुई थी और उससे 6 फुट 3 इंच का कीड़ा निकाला गया।सर्जन डॉ. डीएस पंवार ने बताया कि यह कीड़ा अधपके सुअर का मांस खाने एवं बिना धोये सब्जियां खाने से बनता है और यह कीड़ा 25 वर्ष तक इंसान के पेट में रहता हैं।इसके बाद व्यक्ति को परेशानी आनी प्रारंभ हो जाती हैं।इसके बाद यह कीड़ा दिमाग में मिर्गी के दौरे भी कर सकता हैं।डा. पंवार ने बताया कि यह बहुत ही दुर्लभ केस था।