फेसबुक पर हुआ इंस्पेक्टर से प्यार, अब होने ही वाली थी शादी, लेकिन लड़की ने ये कुछ लिखकर चुन लिया मौत

लखनऊ में ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म से एमए करने वाली छात्रा प्रिंशु सिंह पांच पेज का सुसाइड नोट लिखकर जहर खाकर जान दे दिया। लड़की की 15 मई को पुल‍िस इंस्पेक्टर से शादी होने वाली थी लेक‍िन दहेज की वजह से लड़की को सुसाइड के ल‍िए मजबूर होना पड़ा। मामला उत्तर प्रदेश के प्रयागराज ज‍िले का है।  छात्रा ने ये कदम प्रयागराज जिले के झूंसी क्षेत्र में उठाया।

फेसबुक के जरिए ही हुई थी दोनों की दोस्ती
loading...
उप्र के हलधरपुर की रहने वाली प्रिंशु (21) ने 2018 में भोपाल स्थित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विवि से एमए इन ब्रॉड कास्ट जर्नलिज्म किया था। देव नगर में रहने वाले इंस्पेक्टर कालिका प्रताप सिंह (बॉबी) जो कि फतेहपुर, यूपी में पदस्थ  हैं के साथ 12 दिन बाद उसकी शादी तय थी। प्रिंशू का सात साल बड़े कालिका उर्फ बॉबी से परिचय अगस्त 2016 में फेसबुक के जरिए हुआ था। एक-दूसरे के मोबाइल नंबर आपस में शेयर हुए और दोस्ती प्यार में तब्दील हो गई थी। प्रिंशु ने पांच पेज का एक सुसाइड नोट छोड़ा है। लिखा है कि शादी की पूरी तैयारियां हो चुकी हैं।
उन्हें दहेज के 25 लाख भी दे चुके हैं। छात्रा प्रिंशू सिंह ने अपनी हत्या का जिम्मेदार यूपी पुलिस के दारोगा और उसके परिजनों को बताया है। युवती का आगामी सात मई को तिलक था और 15 मई को उसका विवाह होना था। लेकिन 30 अप्रैल को ही अचानक दारोगा ने फोन पर शादी करने से इंकार कर दिया। इससे वह काफी आहत हो गई थी। एसएसपी प्रयागराज अतुल शर्मा के मुताबिक, प्रिंशू के पिता की शिकायत पर दहेज अधिनियम के तहत केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

सुसाइड में उसने लिखा ये बातें 

नमस्ते, मेरा नाम प्रिंशु सिंह है। दो मई को ये लैटर मैं पूरे होशो-हवास में गाड़ी में बैठकर लिख रही हूं। मैं प्रयागराज कालिका प्रताप सिंह के घर जा रही हूं। जब आप ये लैटर पढ़ रहे होंगे, तब शायद मैं इस दुनिया में नहीं होऊंगी। कालिका को मैं बॉबी बुलाती हूं। अगस्त 2016 में बॉबी से मेरी पहचान फेसबुक पर हुई थी। हम दोनों एक-दूसरे को प्यार करते थे। 8-9 महीने बाद बॉबी मुझसे मिलने भोपाल आए। बॉबी ने मुझसे पूछा कि तुम्हारे घरवाले क्या गिफ्ट (दहेज) देंगे। मैंने कहा 20 लाख रुपये और एक फोर व्हीलर। मेरे पापा उनके घर रिश्ता लेकर गए, जिसे उन्होंने मंजूर कर लिया। उनके भैया झूंसी में मकान खरीद रहे थे।
उनके कहने पर बॉबी ने मुझसे 35 लाख कैश और स्विफ्ट मांगी। मेरे परिवार ने इसका विरोध किया, लेकिन मेरी जिद के आगे वे मान गए। पापा ने मथुरा जाकर उन्हें 25 लाख रुपये दे भी दिए। यहीं हमारे पहली बार संबंध बने। 15 मई को हमारी शादी है। शादी की पूरी तैयारियां हो चुकी हैं। कार्ड तक बंट गए हैं। 28 अप्रैल को बॉबी कहने लगे कि मेरे पापा और अरविंद भैया इस शादी के लिए तैयार नहीं हैं। मेरा जीवन इन सबने बर्बाद कर दिया है। भगवान से गुजारिश है इन्हें इनके किए की सजा जीवनभर मिले। अरविंद प्रताप सिंह, बॉबी के चाचा जेपी सिंह, और उनके भैया विश्वनाथ प्रताप सिंह की वजह से मैं जान दे रही हूं। बॉबी ने भी ठीक नहीं किया और मुझे आत्महत्या करने जैसी स्थिति में लाकर खड़ा कर दिया। मुझे सिर्फ न्याय चाहिए. गुड बाय. -प्रिंशु सिंह।

पूर्व व‍िधायक हेमंत कटारे पर यौन शोषण के आरोप भी लगाए थे, तभी आई थी प्रिंशु चर्चा में
बता दें क‍ि सुसाइड करने वाली लड़की प्र‍िंशु स‍िंह फरवरी  2018 में तब चर्चा में आई थी जब फरवरी 2018 में प्रिंशू ने मध्य प्रदेश के कांग्रेस नेता हेमंत कटारे पर यौन शोषण का आरोप लगाकर सनसनी फैला दी थी। क्राइम ब्रांच ने उसके खिलाफ ही ब्लैकमेलिंग का केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया था। बाद में प्रिंशू ने अपना आरोप वापस ले लिया था। साल के आखिर में एक प्रेस कांफ्रेंस कर प्रिंशू ने कुछ राजनेताओं के बहकावे में आकर आरोप लगाने की सफाई दी। इसके बाद से ही उसका सुर्खियों में रहना कम हो गया था।