महिला को अपने प्रेम जाल में फंसा, युवक ने किया कुछ ऐसा जिसको जानकर दंग रह जायेंगे

हत्या का राज जमीन उगल देती है। महिला की हत्या कर शव को खेत में दबाने के मामले की जांच में कुछ ऐसा ही सामने आया है। छह साल में शव कंकाल में बदल गया था, लेकिन कपड़े पुलिस को सबूत के तौर पर मिले थे। पुलिस ने मंगलवार को कंकाल को निकाल कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।
loading...
पुलिस अब सबूत के लिए कंकाल का डीएनए टेस्ट कराएगी। पुलिस महानिरीक्षक जयपुर रेंज एस. सेंगाथिर ने कहा कि अपराध के मुख्य आरोपी रींगस थाना क्षेत्र के धीरजपुरा गांव के पास स्थित ढाणी जोहड़ावाली निवासी बिशन उर्फ ​​विष्णु रुलानिया को गिरफ्तार किया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।
महिला की हत्या की कहानी प्यार में धोखे से जुड़ी है। बिशन वर्ष 2013 में किराए के मकान में रहता था। उसने राधाकिशनपुरा इलाके में रहने वाली मोनिका उर्फ ​​मोना दर्जी को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया। तलाकशुदा मोना ने भी बिशन के प्यार में अपना घर छोड़ दिया। वह रींगस में उसके साथ रहने लगी।
परिवार के लोगों ने इसका विरोध किया। बाद में, भाई की शादी के दौरान, उसे पुलिस की मदद से वापस भी लाया गया। इसके बाद भी, मोना ने बिशन पर साथ रहने के लिए दबाव डाला। ऐसे में बिशन ने उसकी हत्या करने की योजना बनाई। बिशन और उसका साथी श्रीमाधोपुर इलाके के श्योपुरा के पास सामोता के ढाणी निवासी ओमप्रकाश उर्फ ​​ओपी मोना को बाइक पर बिठाकर रींगस ले गया। वहां दोनों ने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी।