बेटी शादी करने के लिए जिद कर रही थी, इसलिए बाप ने उसके साथ कर दिया ये काम

दोवड़ा थाना क्षेत्र के कांठड़ी गुमडिया घाटी में 24 सितबर को गड्ढे में मिली युवती की लाश के मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने मृतका के प्रेमी के माता-पिता को गिरतार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि युवती गर्भवती थी तथा प्रेमी युवक से विवाह करने की जीद कर रही थी, जबकि माता-पिता उसकी सगाई कहीं ओर कर चुके थे। ऐसे में रास्ते से हटाने के लिए हथोड़ी से वार कर उसकी हत्या कर दी और लाश को कार की डक्की में डालकर गड्ढे में फेंक दिया था।

यह हुई थी घटना
loading...
गुमडिया घाटी में 24 सितबर को दोपहर बाद स्कूल से लौटते बच्चों ने बरसाती पानी से भरे गड्ढे में युवती की औंधे मुंह पड़ी लाश देखकर लोगों को सूचना दी थी। पुलिस ने कीचड़ से सने शव को बाहर निकलवाकर धुलवाया। मृतका की शिनात हथाईनिवासी अनिता पुत्री नाथूलाल पंचाल के रूप में हुई थी। मृतका के पिता नाथूलाल ने पुलिस को दी रिपोर्ट में गांव के ही राजा उर्फ कोमल पुत्र हितेष जोशी से प्रेम संबंध होने तथा इससे अनिता के गर्भवती होने की बात कहते हुए राजा सहित उसके परिवारजनों पर हत्या के आरोप लगाए थे। बुधवार को शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद भी ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया था। 

और फिर यूं हुआ खुलासा

जिला पुलिस अधीक्षक जय यादव ने बताया कि वारदात की गंभीरता को देखते हुए एएसपी रामजीलाल चंदेल, उपाधीक्षक अनिल मीणा के निर्देश और थानाधिकारी भानुप्रतापसिंह के नेतृत्व में टीम गठित की। मृतका के परिजनों के बयानों के आधार पर हथाईनिवासी हितेश पुत्र नटवरलाल जोशी व उसकी पत्नी सावित्रीदेवी को हिरासत में लेकर मनोवैज्ञानिक ढंग से पूछताछ की। इससे दोनों ने वारदात कबूल कर ली। 

पहले इंजेक्शन लगाया, फिर किए वार

पुलिस का दावा कि 23 सितबर को अनिता राजा के घर आई। उसने राजा से पांच साल से प्रेम संबंध होने तथा तथा गर्भवती होने की जानकारी देते हुए राजा की पत्नी बनकर इसी घर में रहने की बात कही। साथ ही गर्भपात कराने की भी बात कही। इस पर राजा की मां पेशे से स्टाफ नर्स सावित्री ने उसके हाथ पर इंजेक्शन लगाया। इससे अनीता को हिचकिया लाने लगी और चिल्लाने लगी। इस पर हितेष और सावित्री ने उसका मुंह दबाकर फर्म पर पटक दिया। सावित्री ने हथोड़े से उसके सिर पर वार किया। इसके बाद हितेष ने भी उसी हथोड़े से एक और वार किया। इससे उसकी मृत्यु हो गई। 

डाइनिंग टेबल कवर में लपेटी लाश
पति-पत्नी ने अनीता की लाश को हरे नेट और डाइनिंग टेबल कवर में लपेट कर कार की डिक्की में डाल दिया। रात के अंधेरे में वे उसे हथाईसे करीब 10-12 किमी दूर गुमडिया घाटी ले गए। वहां सुनसान जगह देखकर लाश को गड्ढे में डालकर वापस घर आ गए। 

घर आकर धो दिया खून

दोनों ने रात को घर पर जहां-जहां खून लगा था, उसे पूरा धो दिया, ताकि कोई सबूत नहीं मिले। इस बीच पुलिस ने फोरेसिंक लेब से टीम बुलवाई। टीम ने आरोपितों के घर और कार की गहनता से पड़ताल की। धो देने के बावजूद खून के निशान सहित अन्य साक्ष्य बरामद किए। पुलिस ने वारदात में प्रयुक्त हथोड़ी, हरी नेट, टेबल कवर तथा कार जब्त कर लिए हैं।

पुत्र मौजूद नहीं था घर पर 
पुलिस का दावा है कि वारदात के दौरान मृतका का प्रेमी राजा घर पर मौजूद नहीं था। वह अहमदाबाद था। 24 सितम्बर को तड़के चार बजे ही वह हथाई लौटा था। मृतका के गृभस्थ शिशु और राजा का डीएनए टेस्ट कराया जा रहा है। वारदात का खुलासा करने वाली टीम में थानाधिकारी सहित एएसआई कालूसिंह, हैडकांस्टेबल शिशुपालसिंह, भुपेंद्रसिंह, भंवरसिंह, पुष्पेंद्रसिंह व हर्षवद्र्धनसिंह शामिल रहे।