बाप ने बेटी की मेडिकल फीस के लिए अपनी किडनी तक बेच दी और बेटी ने आशिक के लिए किया ये काम

loading...
दोस्तों, किसी ने सही कहा है कि दुनिया में माता-पिता से बढ़कर अपना कोई नहीं होता। एक माता-पिता अपनी औलाद को पालने के लिए किस हद तक गुजर सकता है यह सिर्फ वही जान सकता है। ऐसा ही मामला हाल ही में देखने को मिला है.
दरअसल ये पूरा मामला राजस्थान राज्य के जयपुर जिले की कोटपूतली तहसील का हैं. भीखाराम वर्मा 12 साल बाद पत्नी की मृत्यु होने के बाद से ही लोगों की जमीन की देखरेख करता है. जिससे इसका जीवन यापन होता है. इनके एक लड़का जिसकी 5 साल पहले एक दुर्घटना में मौत हो गई थी. 21 साल की बेटी अल्का जो कि बीकानेर में मेडिकल की पढ़ाई कर रही थी.
बेटी की तीसरी साल की फीस के लिए पिता भीखाराम के पास रुपए नहीं थे. बेटी के दबाव लगाने के बाद भीखाराम ने अस्पताल जाकर अपनी एक किडनी बेच दी और बेटी को फीस के 25 हजार दिए. लेकिन उसकी बेटी मेडिकल कॉलेज के एक स्टूडेंट के प्यार में फंसी हुई थी. अपने बॉयफ्रेंड के चले जाने से वह बहुत ज्यादा दुखी थी. इसी कारण तनाव में आकर अपने बॉयफ्रेंड नीलेश के लिए सुसाइड नोट लिखा और फांसी खाकर मर गई.