दो दोस्तों ने पहले लड़की के साथ खाया खाना और फिर जंगल में ले जाकर किया ये काम, पुलिस ने किया ये खुलासा

मुजफ्फरनगर जिले के थाना भोपा पुलिस को उस समय बड़ी सफलता हाथ लगी। जब पुलिस ने 5 सितंबर 2019 को थाना क्षेत्र के जंगल में कपड़े में लिपटी मिले एक अज्ञात महिला के शव के मामले का खुलासा करते हुए एक हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि हत्या का दूसरा आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर है। गिरफ्तार किया गया आरोपी ने महिला की हत्या कर कार से शव को यहां फेंके जाने की बात कबूल की हैं। पैसे के लेनदेन के मामले को लेकर महिला की हत्या किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। और पकड़े गए आरोपी के कब्जे से पुलिस ने शव को फेंकने इस्तेमाल की गई कार मृतका के शिक्षा संबंधी कागजात पहचान पत्र आधार कार्ड व जिस कपड़े से हत्या की गई उसको बरामद किया गया है।
loading...
दरअसल गत 5 सितंबर 2019 को थाना भोपा क्षेत्र के गांव यूसुफपुर के जंगल में एक कपड़े में लिपटा महिला का शव बरामद हुआ था जिसके बाद थाना प्रभारी एमएस गिल द्वारा मृतका की शिनाख्त कराने का प्रयास किया गया था और मृतका के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। जिसके 2 दिन बाद मृतका की पहचान दिव्यांशी निवासी ब्रहमपुरी मेरठ के रूप में हुई थी। इसके बाद पुलिस द्वारा मामले में गहनता से छानबीन की, तो पूरा मामला खुलकर सामने आ गया। पुलिस द्वारा बताया गया कि दिव्यांशी खुले विचारों की महिला थी। जिसके गौरव निवासी मुजफ्फरनगर व सूरज ढाका से दोस्ती हो गई थी। 
बताया जा रहा है कि महिला की दो बार शादी हो चुकी थी। मगर गौरव और सूरज ढाका की वजह से दोनों शादी टूट गई थी। इसमें एक शादी के फैसले में मृतका को समझौते के रूप में लगभग 6 लांख रुपये मिले थे। जो आरोपियों ने बहला-फुसलाकर मृतका से हड़प लिए थे। मृतका दिव्यांशी अपने परिवार से अलग मेरठ में रह रही थी। यहां उसकी दो युवकों से गहरी दोस्ती हो गई थी। यहां उसके सारे रुपये दोस्तों के साथ घूमने और मौज मस्ती में खर्च हो गये। इसके बाद महिला ने दोनों युवकों से रुपये वापस मांगे तो उन्होंने उसकी हत्या का प्लान बना लिया।

पहले साथ में खाया खाना और फिर ऐसे कर दी हत्या
4 सितंबर 2019 को दोनों आरोपियों ने महिला के साथ बैठकर एक साथ खाना खाया। इसके बाद आरोपी गौरव और सूरज ने मिलकर महिला के मुंह पर कपड़ा बांधकर उसकी हत्या कर दी। उसे गाड़ी में डालकर थाना भोपा क्षेत्र के गांव यूसुफपुर के जंगल में डाल कर आरोपी फरार हो गये। इसके बाद पुलिस को सूचना मिली तो पुलिस ने मृतका के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 
साथ ही मामले की जांच की तो पुलिस ने आरोपियों में से सूरज ढाका निवासी ढिकोली थाना चांदीनगर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। जिसके कब्जे से पुलिस ने घटना में इस्तेमाल की गई गाड़ी मृतका के कागज व हत्या में इस्तेमाल कपड़ा बरामद किया है। पुलिस दूसरे आरोपी गौरव पुत्र विनोद की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर दी है। पुलिस दावा है कि जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।