जादू टोना के चक्कर में चेले ने किया बाबा के साथ ऐसा काम, और फिर घर में ही गाड़ दिया

राजस्थान के अजमेर शहर में दरगाह थाना क्षेत्र के रूठी रानी महल के पास गडढे में कंकाल मिलने के मामले का खुलासा हो गया है। पुलिस हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ कर रही है। हत्या का कारण जादू-टोना बताया जा रहा है।

25 सितंबर को मिला कंकाल
loading...
एएसपी अजमेर सिटी नारायण सिंह टोगस ने बताया कि 25 सितम्बर शाम को चरवाहे ने वन विभाग को सूचना दी थी कि एक गडढे में मनुष्य की हड्डियां पड़ी हुई हैं। इस पर मौके पर पहुंचकर जब पूछताछ की तो मृतक की शिनाख्त विश्वास बाबा के रूप में हुई।

8 साल से थे दोनों साथ
आस-पास के लोगों से पूछताछ करने पर पता चला कि विश्वास बाबा के साथ पिछले 8-10 साल से हमीन खान उर्फ खूं बाबा रहता था। खूं बाबा को हिरासत में लिया गया तो पहले वह पुलिस को गुमराह करता रहा। फिर सख्ती बरतने पर सच उगल दिया। उसने पूछताछ में बताया कि विश्वास बाबा को गला घोंटकर मौत के घाट उतारने व उसके शव को दफना दिया।

जादू टोना का जानकार था बाबा​ विश्वास
एएसपी टोगस ने बताया कि हत्यारे खूं बाबा ने बताया कि विश्वास बाबा जादू टोने का बहुत अधिक जानकार था। वह उसे हमेशा जादू टोना सिखाने को कहता, लेकिन वह इंकार कर देता। उसने विश्वास बाबा पर जादू टोना सिखाने का दबाव बनाया तो उसने उसी पर टोटका कर दिया। जिससे उसकी तबीयत खराब रहने लगी।

टोटका नहीं उतारा तो मार दिया
उसने विश्वास बाबा को कई बार कहा कि उसके ऊपर किया गया टोटका वापस उतार दे, लेकिन वह नहीं माना। ऐसे में 9-10 माह पहले गांजा पिलाकर रूठी रानी महल में ही अपने गमछे से उसका गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद वह विश्वास बाबा के शव को कम्बल में लपेट कर उसे चश्मा नूर नाले के मैदान में गडढ़ा खोदकर दफना भी दिया।