दोनों इकलौते बेटे, बचपन से पढ़ रहे थे साथ, और एक साथ मौके पर तोड़ दिया दम, ऐसा क्या हुआ

भोपाल में एक तेज रफ्तार महंगी स्पोट्र्स बाइक सवार दो छात्र डिवाइडर से टकरा गए। हादसे में दोनों छात्रों की मौके पर ही मौत हो गई। हादसा इतना जबरदस्त हुआ कि हेलमेट टूट गया और दोनों छात्र बाइक के साथ काफी दूर तक घिसटते हुए चले गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि बाइक की रफ्तार बेहद तेज थी। बाइक टकराने के बाद डिवाइडर की सीमेंट तक उखड़ती चली गई। दोनों मृतक अपने पिता के इकलौते बेटे थे। यह घटना हबीबगंज थाना क्षेत्र की है। पुलिस के अनुसार शनिवार रात करीब साढ़े 12 बजे लिंक रोड क्रमांक- दो पर कृष्णप्रणामी मंदिर के सामने तेज रफ्तार बाइक सवार दो छात्र अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गए। 
loading...
हादसा इतना भीषण हुआ कि दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। बाइक काफी दूर तक डिवाइडर से घिसटती हुई चली गई। सूचना के बाद मौके पर पुलिस पहुंच गई। मौका- मुआयना के बाद घटना की तफ्तीश में सामने आया कि दोनों मृतक छात्र दोस्त थे। वे माता मंदिर स्थित किसी दोस्त से मिलकर घर लौट रहे थे। मृतकों की पहचान स्वदेश नगर अशोका गार्डन निवासी 23 वर्षीय आशुतोष अतुलकर और मणीपुरम् निवासी 23 वर्षीय अंकुर सोनी के रूप में हुई। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

दोनों थे बचपन के दोस्त, आठवीं से पढ़ रहे साथ
मृतक आशुतोष के पिता रेलवे से रिटायर्ड सीटीआई हैं, जबकि मां सुनीता अतुलकर रायसेन जिला अस्पताल में प्रसूति विषेशज्ञ हैं। आशुतोष इनका इकलौता बेटा था। अंकुर सोनी के पिता टैंट हाउस कारोबारी हैं, अंकुर भी माता-पिता का इकलौता बेटा था। आशुतोष ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की थी, उसके बाद वह विदेश में पढ़ाई करने के लिए जीआरई (ग्रेजुएट रेकॉर्ड एग्जामिनेशन) की तैयारी कर रहा था। 
अंकुर बी-टेक करने के बाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इवेंट मैनेजमेंट का कोर्स करा रहा था। दोनों बचपन के दोस्त थे, आठवीं कक्षा से एक साथ पढ़ाई कर रहे थे। दोनों की मौत के बाद घरों में मातम पसर गया। बाइक आशुतोष चला रहा था। वह अंकुर को छोडऩे के लिए उसके घर जा रहा था, तभी यह हादसा हो गया।