प्रेमी के घर बक्से में छिपी हुई थी प्रेमिका, प्रेमी को चौराहे पर खंभे से बांधकर पीट दिया गया

प्रेमी के घर बक्से में छिपी मिली प्रेमिका के परिजनों ने उसके प्रेमी को चौराहे पर बिजली के खंभे से बांधकर पीटा। इस दौरान कुछ लोग तमंचे लहराकर गांव वालों को धमकाते रहे और किसी की भी उसे बचाने की हिम्मत नहीं हुई। पुलिस पहुंची तो आरोपी उसे अधमरा छोड़कर भाग गए। उसका सीएचसी में इलाज कराया जा रहा है।
loading...
आंवला क्षेत्र के गांव धर्मपुर के पंकज ने पुलिस को बताया कि उसका अपनी बिरादरी की ही एक लड़की से प्रेम प्रसंग हो गया। मंगलवार रात प्रेमिका मौका पाकर घर आ गई। बुधवार तड़के उसके परिजनों को भनक लग गई तो वे खोजते हुए आए। प्रेमिका घबराकर संदूक में छुप गई। तलाशते हुए आए परिजनों ने उसे खोज निकाला। इसके बाव वे पंकज को घसीटते हुए ले गए और चौराहे पर ले जाकर बिजली के खंभे से बांध दिया।
आठ-दस लोगों ने लाठियों से उसे जमकर पीटा। इस दौरान वे लोग तमंचे लेकर गांव वालों को धमकियां भी देते रहे किसी ने बचाने की कोशिश की तो अंजाम बुरा होगा। इस वजह से कोई बचाने नहीं आया। इसी बीच किसी ग्रामीण ने पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस की गाड़ी पहुंची तो आरोपी भाग गए। गंभीर हालत में पंकज को पुलिस सीएचसी ले गई। डॉक्टरों ने बताया कि उसके गुम चोटें आई हैं। पुलिस बता रही है कि दोनों पक्षों में समझौता हो गया है इसलिए कोई कार्रवाई नहीं की गई।

..और हो गया समझौता
इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों में समझौता हो गया है। इसलिए कोई कार्रवाई नहीं की गई है। किसी भी पक्ष ने तहरीर नहीं दी इसलिए मामला रफा-दफा हो गया। वहीं, सरेआम युवक को चौराहे पर बांधकर पीटना और तमंचे लहराकर लोगों को धमकी देने के मामले में भी पुलिस तहरीर का इंतजार कर रही है। वहीं, पुलिस पंकज को बेहोशी की हालत में जीप में डालकर सीएचसी लाई और मेडिकल कराया। सीएचसी प्रभारी डॉ. राजेन्द्र कुमार ने बताया कि गुम चोटें हैं।