तू बाप है न चाचा, कहां से लाया ये बच्चा, इस सवाल पर पुलिस को जो जवाब मिला उसको सुन कान खड़े हो गए

आंवला के खनगांव का कल्लू मंसूरी भीख मांगता है। कई साल पहले कल्लू की पत्नी चार बच्चों को साथ लेकर किसी दूसरे व्यक्ति के साथ चली गई। सोमवार को कल्लू डेढ साल के बच्चे के साथ गांव पहुंचा तो बवाल हो गया। बगैर शादी के कल्लू के पास कहां से आ गया किसको को नहीं पता। ग्राम प्रधान ने आंवला पुलिस में शिकायत कर दी। पुलिस ने बच्चे को कब्जे में लेकर चाइल्ड लाइन को सौंप दिया। चाइल्ड लाइन बुधवार को बच्चे को बाल कल्याण समिति के सामने पेश करेगी। 
loading...
कल्लू मंसूरी अपनी कहानी में उलझ रहा है। कल्लू का दावा है कि दो महीने पहले दिल्ली में बिहार की जरीना से शादी की थी। जरीना के पास पहले से एक चार साल और एक डेढ साल का बेटा है। सोमवार को दिल्ली से आंवला ट्रेन से आ रहे थे। जरीना चार साल के बच्चे को लेकर किसी स्टेशन पर उतर गई। जरीना भी ट्रेन में भीख मांगती है। पुलिस को कल्लू की कहानी पर यकीन नहीं है। चाइल्ड लाइन के कर्मचारी भी मानव तस्करी की आशंका जता रहे हैं।
कल्लू जरीना से निकाह का कोई सबूत नहीं दिखा सका। फिलहाल पुलिस ने बच्चा चाइल्ड लाइन को हवाले कर दिया है। मंगलवार को बच्चे का मेडिकल कराकर चाइल्ड लाइन वर्कर बच्चे को बाल कल्याण समिति के सामने पेश करेंगे। बाल कल्याण समिति के मजिस्टे्रट डा. डीएन शर्मा ने बताया कि आंवला में एक भिखारी के पास से डेढ साल के बच्चे के मिलने की जानकारी चाइल्ड लाइन ने दी है। मैंने बुधवार को बच्चे को बाल कल्याण समिति में पेश करने को कहा है। बच्चे की मां से शादी करने का दावा करने वाले व्यक्ति के साक्ष्य देखे जाएंगे।