सीने से गोली पार, मौत से लड़ रहा था शख्स लेकिन मदद की जगह वीडियो बनाते रहे लोग

loading...
उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में 30 सितंबर को अपराधियों ने युवक द्वारा लिफ्ट न देने की वजह से गोली मार दी और उसकी बाइक लेकर फरार हो गए। दरअसल, जौनपुर का रहने वाला सुनील कुमार अपनी बुआ को प्रतापगढ़ छोड़ कर लौट रहा था तभी जौनपुर-प्रतापगढ़ की सीमा के पास सैफाबाद नहर पर एक युवक ने सुनील को लिफ्ट लेने के लिए रोका। 
सुनील ने बदमाशों को ल‍िफ्ट देने से इनकार क‍िया तो बदमाशों ने सुनील को गोली मार दी। गोली सुनील के सीने को पार करते हुए निकल गई। बदमाश ने दूसरा फायर भी किया लेकिन पिस्टल से गोली नहीं चली। उसके बाद बदमाश उसकी बाईक लेकर भाग निकला। खून से लथपथ सुनील बीच सड़क पर लोगों से मदद की गुहार लगता रहा लेकिन लोग देख कर आगे बढ़ जाते थे। 
आधे घंटे तक उसी जगह पर चिल्ला-चिल्ला कर लोगों को आवाज़ देता रहा लेकिन लोग उसकी मदद करने की बजाय मोबाइल से वीडियो बनाते रहे। सुनील के मुताबिक, एक महिला उधर से गुजर रही थी, तब उसने अपना फोन देकर घर वालों को जानकारी देने को कहा और कुछ लोगों को उसी ने मदद के लिए बुलाया। दोनों युवकों ने सुनील के सीने पर कपड़ा बांध कर खून रोकने का प्रयास किया और 100 नंबर पर पुलिस को सूचना दी।
सुनील का कहना है क‍ि लोग मोबाइल से वीडियो बना रहे थे लेकिन सभी मदद करने से कतराते रहे। उसने लोगों से कहा भी क‍ि वीडियो न बना कर उसकी मदद करें पर उसकी बात किसी ने नहीं सुनी। इस मामले पर अफसोस जताते हुए डीआईजी के पी सिंह ने कहा कि अगर सुनील को समय रहते अस्पताल पहुंचा दिया जाता तो उसका इलाज और अच्छी तरह से हो सकता था। सिंह ने कहा पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है और जल्द पकड़ लिया जायेगा।